फर्रुखाबाद-डीएम कार्यालय के सामने आत्म दाह का प्रयास

0 1

फर्रुखाबाद-प्रदेश में भाजपा सरकार ने चुनाव के समय बायदा किया था कि हर किसान की जमीन कब्जा मुक्त कराई जायेगी।लेकिन जिला प्रसाशन अभी तक गरीब किसानों की जमीन को कब्जा मुक्त नही कराई है।जिस कारण किसान सरकारी कार्यालयों के चक्कर काट रहे है।उसी को देखते हुए थाना जहानगंज क्षेत्र के गांव राजेपुर तप्पामण्डल के रहने वाले वीरपाल पुत्र अनोखेलाल ने अपनी पट्टे की जमीन को लेकर लेखपाल से लेकर जिलाधिकारी के दर्जनों शिकायती पत्र दे चुका था।लेखपाल रघुनाथ सिंह बर्मा ने 5000 रुपया जमीन की पैमाइस करने के लिए लिया था।लेकिन उसी लेखपाल ने अन्य लोगो से दो लाख रुपया लेकर मकान बनवा दिए है।जब मैने दोबारा पैमाइश की मांग की तो लेखपाल फिर से पांच हजार रुपया मांग रहा है।जबकि नायब तहसीलदार ने आदेश भी दिया उसके बाद भी वह पाए।पैमाइश नही कर रहा है।27.1.2018 को जब मैने फोन किया तो फोन पर उल्टी सीधी बाते बनाकर गुमराह कर रहा है।उसने कहा कि मेरे पास मकान नही पन्नी की झोपड़ी में रहकर अपना जीवन काट रहा हूं।आज परेशान होकर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने दो लीटर मिट्टी का तेल अपने ऊपर डाल कर आग लगाने का प्रयास किया लेकिन मीडिया के लोगो ने उसके हाथ से माचिस छीनकर फेक दी उसके बाद कार्यालय के बाहर लगे सुरक्षा कर्मचारियों ने वीरपाल को पकड़कर जिलाधिकारी के सामने पेश किया है।उसके बाद डीएम मोनिका रानी ने एसडीएम सदर अजीत सिंह के साथ जमीन की पैमाइश कराने के लिए कार्यालय के पिछले दरबाजे से उसको गांव भिजबा दिया है।डीएम मोनिका रानी ने बताया कि जहानगंज क्षेत्र के किसान वीरपाल ने दो दिन पहले अपनी जमीन की पैमाइस कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया था उसके लिए मैंने टीम भी गठित कर दी थी।लेकिन आज उसने आत्म हत्या का प्रयास किया है जो काम कल होना था लेकिन उस किसान की परेशानी का निस्तारण आज ही करा दिया जायेगा।
रिपोर्ट-जीतेन्द्र दुबे

Leave A Reply

Your email address will not be published.